Previous

Next


चीन ने जापान सागर में किया युद्धाभ्यास

चीन की नौसेना ने जापान सागर में युद्ध अभ्यास किया। इस अभ्यास को उसने अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत किया गया जंगी अभ्यास करार दिया है। चीन की नौसेना की ओर से कहा गया कि अपनी क्षमता में सुधार करने के लिए वार्षिक तौर पर किए जाने वाले युद्धाभ्यास का हिस्सा है जिससे नौसेना के बेड़े का दूर समुद्र में लड़ने में मदद मिले। अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इस अभ्यास में अमेरिका की मेजबानी में हुए रिम ऑफ पेसेफिक अभ्यास में भाग लेने वाले जहाज भी शामिल थे।
चीनी नौसेना ने हाल के दिनों अपनी क्षमताओं को सुधारने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुद्र सीमा में कई युद्धाभ्यास किए हैं। जापान सागर जापान, रूस, दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया की सीमा और रणनीतिक जलमार्ग है।



देश छोड़ कर भागे रीक माचर

दक्षिणी सूडान के पूर्व उपराष्ट्रपति और विपक्षी नेता रीक माचर सरकारी सैनिकों से बचने के लिए देश छोड़कर भाग गए। माचर के एक प्रवक्ता ने बताया कि एक महीने पहले सरकारी सेनाओं के साथ चल रहे संघर्ष के बीच ही रीक माचर राजधानी जुबा को छोड़कर चले गए थे, पर सरकारी सेना उनका पीछा कर रही थी।



GK and Current Affairs,GK on August 2016



चीन में पहला क्वांटम उपग्रह लांच

चीन ने 16 अगस्त को विश्व के पहले क्वांटम उपग्रह को सफलतापूर्वक लांच कर दिया। क्वांटम एक्सपेरिमेंट्स एट स्पेस स्केल (क्वूयूईएसएस) उपग्रह को चीन के गोबी रेगिस्तान में स्थित जिउक्वान उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से लांच किया। इसे लांग मार्च-2डी रॉकेट के द्वारा लांच किया गया। अपने दो साल के मिशन के दौरान क्यूयूईएसएस अंतरिक्ष से धरती पर महत्वपूर्ण जानकारियों को भेजकर हैक-प्रूफ क्वांटम संचार की स्थापना करने के लिए डिजाइन किया गया है। यह इस दौरान क्वांटम भौतिकी की अजीब घटनाओं और क्वांटम जटिलताओं की भी जानकारी उपलब्ध कराएगा।



रूस और यूक्रेन के बीच बढ़ा तनाव

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन पर क्रीमिया में संघर्ष बढ़ाने की कोशिश का आरोप लगाने के एक दिन बाद काला सागर में युद्ध अभ्यास घोषित करने के लिए अपनी सुरक्षा परिषद और नौसेना को समन भेजा है। रूस के इस कदम से यूक्रेन की चिंता बढ़ गई है कि रूस, कीव और रूसी समर्थक पूर्वी अलगाववादियों के बीच युद्ध संघर्ष को बढ़ाने की योजना बना सकता है। गौरतलब है कि रूस ने 2014 में क्रीमिया को अपने कब्जे में ले लिया था। पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ आक्रामक रूख अपनाते हुए आरोप लगाया था कि यूक्रेन आतंकवादी गतिविधियों के लिए क्रीमिया में विध्वसंक तत्वों को भेज रहा है। उन्होंने इसके खिलाफ कार्रवाई की बात कही थी।



चीन ने लांच किया गाओफेन-3 उपग्रह

चीन ने 10 अगस्त को एक नए हाई रिजोल्यूशन सिंथेटिक एपर्चर राडार (एसएआर) इमैजिंग उपग्रह को उत्तरी शांक्सी प्रांत से लांच किया। गाओफेन-3 उपग्रह को लांग मार्च 4सी रॉकेट से ताइयुआन उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से छोड़ा गया। यह लांग मार्च माल वाहक रॉकेट का 233वां उड़ान मिशन था।
चीन का पहला एसएआर इमैजिंग उपग्रह एक मीटर लंबी दूरी के लिए बिल्कुल सटीक है, यह प्रत्येक मौसम में पृथ्वी की निगरानी कर सकता है। इसका इस्तेमाल आपदा चेतावनी, मौसम पूर्वानुमान, जल संसाधन आकलन, और समुद्री अधिकारों के संरक्षण के लिए किया जाएगा।
12 इमैजिंग मोड के साथ हाई-डेफेनेशन अवलोकन उपग्रह पृथ्वी की व्यापक तस्वीरें लेने और विशिष्ट क्षेत्रों का विस्तृत परिदृश्यों की फोटोग्राफी करने में सक्षम है। यह चीन का पहला निम्न कक्षीय दूरसंवेदी उपग्रह भी है, जिसका जीवनचक्र आठ साल है। यह लंबी अवधि तक अपने उपयोगकर्ताओं को हाई डेफेनेशन दूरसंवेदी डाटा उपलब्ध कराने में सक्षम है।
चीन और वियतनाम में बढ़ा तनाव

वियतनाम दक्षिण चीन सागर के कई विवादित टापुओं पर गुपचुप तरीके से अपनी पकड़ मजबूत बना रहा है। इसी कड़ी में उसने वहां नए राकेट लांचर तैनात किए हैं। ये लांचर चीन के रनवे (विमान पट्टी) और सैनिक ठिकानों पर हमला करने में सक्षम हैं।
खुफिया जानकारी के मुताबिक वियतनाम ने हाल के महीनों में विवादित स्प्रैटली आईलैंड में पांच जगहों पर राकेट लांचर तैनात किए हैं। यह जानकारी कूटनीतिज्ञों और सैन्य अधिकारियों ने दी।
इस कदम से वियतनाम और चीन के बीच तनाव बढ़ सकता है। गौरतलब है कि चीन दक्षिण चीन सागर के कई टापुओं पर अपना दावा जताता है, जबकि वियतनाम, फिलीपींस, मलेशिया, ब्रूनेई और ताइवान भी इन पर दावा जताते हैं।
ब्राजील में डिल्मा रोजेफ दोषी करार

ब्राजील की निलंबित राष्ट्रपति डिल्मा रोजेफ के खिलाफ महाभियोग का रास्ता साफ हो गया है। यहां की सीनेट ने 10 अगस्त को उनके खिलाफ बजट नियमों के उल्लंघन आरोपों को मान कर उन्हें दोषी करार दिया।
सीनेट ने निलंबित राष्ट्रपति को 21 के खिलाफ 59 वोटों से दोषी ठहराया। सीनेट की बैठक की अध्यक्षता चीफ जस्टिस रिकार्डो लिवानदोवस्की ने की।



चीन सागर में चीन ने बनाए एयर हैंगर

चीन ने दक्षिण चीन सागर के विवादित स्पार्टले टापुओं पर अपने लड़ाकू विमानों के लिए बड़ी संख्या में एयर हैंगर बनाए हैं। इससे उस इलाके में चीन की सैनिक तैयारियों का पता चलता है।
इनमें सबसे बड़ा 200 फुट चौड़ा एयर हैंगर है जिसमें सामरिक बमवर्षक विमानों के रखे जाने और तेल भरने की व्यवस्था है। इन एयर हैंगर का आकार इतना बड़ा है कि इसका इस्तेमाल सिविल कार्यों की बजाए सैन्य गतिविधियों में ज्यादा होता है।
चीन की ओर से बनाए गए इन हैंगरों में सबसे छोटा 60 फुट का हैंगर है। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान कहा था कि उनके देश का इरादा दक्षिण पूर्वी चीन सागर के सैन्यीकरण का नहीं है पर सैटेलाइट से लिए गए चित्रों में उनके देश की ओर से एयर हैंगर बना लेने की खबर कुछ और ही संकेत देती है। इस बीच पिछले सप्ताह चीन के बमवर्षक और लड़ाकू विमानों ने दक्षिण चीन सागर की उड़ान भरी थी और चीन के रक्षा विभाग ने वहां उनकी तैनाती और गश्त का भी ऐलान किया था।



उ. कोरियाई राजनयिक को देश निकाला

दस लाख से ज्यादा सिगरेट और इलेक्ट्रिक उपकरणों को तस्करी कर जहाज के जरिए देश में ला रहे उत्तर कोरिया के एक राजनयिक को बांग्लादेश ने देश निकाला दे दिया है। ढाका स्थित उत्तर कोरियाई दूतावास में प्रथम सचिव हान सोन इक ने लगभग पांच लाख डॉलर कीमत के उत्पादों की जानकारी सीमाशुल्क विभाग को नहीं दी थी। इस वजह से उन्हें देश छोड़कर जाने को कहा गया।


7000 भारतीयों को मिली मलयेशिया की नागरिकता

मलाया को ब्रिटेन से आजादी मिलने से पहले वहां जन्मे लगभग 7,000 भारतीयों को अफसरशाही से कई साल तक लड़ने के बाद अंतत: मलेशियाई नागरिकता मिल गई। मलयेशियन इंडियन कांग्रेस (एमआईसी) के अध्यक्ष एस सुब्रमण्यम ने कहा, अब तक लगभग 7,000 भारतीयों को नागरिकता मिल गई है लेकिन बहुत से लोगों का पंजीकरण अभी बाकी है। उन्होंने कहा, औसत तौर पर, नागरिकता हासिल करने के लिए संभवत: 15 हजार से ज्यादा भारतीयों का पंजीकरण अभी बाकी है। इस मुद्दे के हल तक यह प्रक्रिया जारी रहेगी। प्रधानमंत्री नजीब रजाक ने हाल ही में कहा था कि जिन्हें अभी नागरिकता नहीं मिली है, उन्हें अपना अधिकार प्राप्त करना चाहिए।
थाईलैंड में सैन्य समर्थित संविधान को स्वीकृति

थाईलैंड की जनता ने सैन्य समर्थित नए संविधन को 7 अगस्त को स्वीकृति प्रदान कर दी। नए संविधान से अगले साल चुनाव का रास्ता साफ हो गया और यह भविष्य की निर्वाचित सरकारों को लेकर अंतिम फैसला करने की ताकत देता है। थाई मतदाताओं ने दो साल पहले सरकार को सेना द्वारा अपदस्थ किए जाने के बाद पहली बार मतदान किया है। थाईलैंड के निर्वाचन आयोग ने कहा, 91 फीसदी मतों की गिनती हो चुकी है और 61 फीसदी लोगों ने सैन्य समर्थित संविधान के पक्ष में मतदान किया है। सेना का मानना है कि नए संविधान से राजनीतिक भ्रष्टाचार पर अंकुश लगेगा और स्थिरता आएगी, हालांकि आलोचकों ने कहा, यह संविधान सरकार पर सेना का नियंत्रण बढ़ाने वाला है।
गौरतलब है सेना ने साल 2014 में तख्तापलट के बाद सत्ता पर कब्जा कर लिया था और देश में ‘स्वच्छ राजनीति’ सुनिश्चित करने के लिए संविधान को फिर से लिखे जाने का आह्वान किया था।
ईरान ने अपने परमाणु वैज्ञानिक को फांसी दी

ईरान ने 7 अगस्त को उस परमाणु वैज्ञानिक शहराम अमीरी को फांसी दे दी। उस पर अमेरिका के लिए जासूसी करने का आरोप लगाया गया था। शहराम वर्ष 2009 में सऊदी अरब में मुस्लिम धर्मस्थलों के तीर्थाटन के दौरान गायब हो गए थे। वह एक साल बाद ऑनलाइन वीडियो में दिखे जिसे अमेरिका में फिल्माया गया था। अपने साक्षात्कारों में अमीरी ने अपनी इच्छा के विरुद्ध सऊदी और अमेरिकी जासूसों द्वारा उन्हें रखे जाने का आरोप लगाया जबकि अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम को समझने में उनकी मदद के एवज में उन्हें लाखों डॉलर मिलने वाले थे।


चीन ने द. चीन सागर में भेजे लड़ाकू विमान

चीन ने दक्षिणी चीन सागर में गश्ती के लिए वायुसेना के बमबर्षक और लड़ाकू विमानों को भेजा है। चीन के वायुसेना ने दक्षिणी चीन सागर में गश्ती के लिए कई एच-6 बमबर्षक और एस यू -30 लडाकू विमानों को भेजा है। कर्नल जिंक ने बताया, समुद्री हित, सुरक्षा, राष्ट्रीय संप्रभुता की रक्षा और सभी तरह की सुरक्षा के मद्देनजर वायुसेना ने देश के हित में दक्षिणी चीन सागर में गश्ती और अभ्यास को ध्यान में रखते हुए बमबर्षक और लडाकू विमानों को भेजने का निर्णय लिया है। गौरतलब है दक्षिणी चीन सागर पर चीन के दावे को फिलीपींस की ओर से अंतरराष्ट्रीय न्यायाधिकरण में चुनौती दी गई थी। न्यायाधिकरण ने दक्षिणी चीन सागर पर चीन के दावे को खारिज कर दिया था।


ब्राजील के राष्ट्रपति के विरुद्ध महाभियोग

ब्राजील की सीनेट की महाभियोग समिति ने सीनेट में निलम्बित राष्ट्रपति डिल्मा राउसेफ के विरूद्ध महाभियोग की कार्यवाही शुरू करने की अनुमति दे दी है। डिल्मा राउसेफ के विरुद्ध महाभियोग वित्तीय संबंधी नियमों के उल्लंघन को लेकर चलाया जा रहा है। महाभियोग कार्यवाही शुरू होने के साथ राउसेफ को राष्ट्रपति के पद से हटाने का रास्ता साफ हो गया है।


उत्तर कोरिया ने किया बैलिस्टिक मिसाइल का प्रक्षेपण

2 अगस्त को उत्तर कोरिया ने जापान के सागर की ओर बैलिस्टिक मिसाइल का प्रक्षेपण किया। ऐसा माना जा रहा है कि उत्तर कोरिया ने अमेरिकी मिसाइल रक्षा प्रणाली की योजनाबद्ध तैनाती पर प्रतिक्रिया देते हुए यह कदम उठाया है।
इस परीक्षण से पहले उत्तर कोरिया ने 19 जुलाई को तीन बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रक्षेपण किया था। संयुक्त राष्ट्र के कड़े प्रतिबंधों को दरकिनार करते हुए प्योंगयांग ने इस साल एक के बाद एक कई मिसाइल परीक्षण किए और यह संकल्प लिया कि वह दक्षिण में अमेरिकी मिसाइल रक्षा प्रणाली की योजनाबद्ध तैनाती के विरोध में ठोस कार्रवाई करेगा। संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के तहत उत्तर कोरिया को बैलिस्टिक मिसाइल तकनीक विकसित करने से प्रतिबंधित किया गया है।
पेंटागन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य मदद रोकी

पेंटागन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की सैन्य मदद रोक दी है क्योंकि रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर ने कांग्रेस को इस बात का प्रमाण पत्र देने से इंकार कर दिया कि पाकिस्तान खूंखार आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई कर रहा है। कांग्रेशनल प्रमाणपत्र के अभाव में पेंटागन ने गठबंधन सहयोग कोष के तहत पाकिस्तान को दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की मदद को रोक दिया है। यह राशि दरअसल अफगानिस्तान में अमेरिकी अभियानों के सहयोग के लिए पाकिस्तानी सेना की ओर से किए गए खर्च की अदायगी के लिए होती है।
पाकिस्तान के लिए गठबंधन सहयोग कोष (सीएसएफ) के तहत वित्तीय वर्ष 2015 में एक अरब डॉलर मंजूर किए गए थे। इसमें से वह 70 करोड़ डॉलर ले चुका है।
दूसरी बार नेपाल के प्रधानमंत्री बने प्रचंड

नेपाल के शीर्ष माओवादी नेता पुष्प कमल दहल प्रचंड को 3 अगस्त को नेपाली सांसदों ने दूसरी बार प्रधानमंत्री चुना। प्रधानमंत्री पद के लिए सीपीएन-माओवादी सेंटर के प्रमुख प्रचंड एकमात्र उम्मीदवार थे, इसके बावजूद मतदान हुआ क्योंकि संविधान के मुताबिक प्रधानमंत्री को सदन में बहुमत साबित करना होता है।
नेपाल की 595 सदस्यीय संसद में 61 वर्षीय प्रचंड को 363 मत हासिल हुए जबकि उनके खिलाफ 210 मत पड़े। 22 सदस्यों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया।
इससे पहले वह 2008 से 2009 तक प्रधानमंत्री रहे थे। सेना प्रमुख को बर्खास्त करने के उनके प्रयास को लेकर सेना के साथ मतभेद पैदा होने के बाद उनके कार्यकाल का जल्द अंत हो गया था।
प्रचंड की सीपीएन-माओवादी सेंटर और नेपाली कांग्रेस ने 2 अगस्त को मधेसी पार्टियों का समर्थन हासिल करने के मकसद से मधेसी फ्रंट के साथ तीन सूत्री समझौते पर हस्ताक्षर किया था।
गौरतलब है केपी ओली ने बीते 24 जुलाई को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद नेपाल में नया राजनीतिक संकट पैदा हो गया। ओली के इस्तीफे के बाद से प्रधानमंत्री का पद खाली पड़ा था।

योरिको कोइके पहली महिला गवर्नर चुनी गई

जापान की डिफेन्स एंड एनवायरमेंट मिनिस्टर योरिको कोइके 1 अगस्त को राजधानी टोक्यो की पहली महिला गवर्नर चुनी गई हैं। उन्हें प्रधानमंत्री शिंजो आबे की लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ने उम्मीदवार बनाने से मना कर दिया था। फिर भी कोइके (64) लड़ीं और सत्तारूढ़ गठबंधन के उम्मीदवार हिरोया मसूदा को हराया।
कोइके ने पर्यावरण मंत्री (2003 से 2006) के रूप में उन्होंने कूल बिज कैंपेन चलाया था। इसके तहत लोग गर्मियों में कैजुअल ड्रेस में दफ्तर आ सकते थे ताकि बिजली बचे। कोइके राजनीति में आने से पहले टीवी टोक्यो में न्यूज एंकर थीं। उस समय वे इतनी लोकप्रिय हुईं कि 1992 निहोन शिंतो (नया जापान पार्टी) से उच्च सदन के लिए चुनी गईं। कोइक अरबी भाषा में पारंगत हैं।
चीन ने पाकिस्तान को दिया न्यूक्लियर रिएक्टर्स

चीन ने पाकिस्‍तान को न्‍यूक्लिर रिएक्‍टर देकर 2010 में न्‍यूक्लियर टेक्‍नोलॉजी की सप्‍लाई पर हुई NPT रिव्‍यू कॉन्‍फ्रेंस में बनी आम सहमति का उल्‍लंघन किया है। यह खुलासा हुआ है आर्म्‍स कंट्रोल एसोसिएशन (ACA) की ताजा रिपोर्ट में जिसमें अप्रसार पर प्रगति की समीक्षा की गई है। यह संस्‍था परमाणु हथियारों और निरजस्‍त्रीकरण के क्षेत्र में अग्रणी है। आर्म्स कंट्रोल एसोसिएशन (ACA) ने अपनी रिपोर्ट में चीन के इस कदम को NPT (Nuclear non-Proliferation Treaty) के नियमों के खिलाफ बताया है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘चीन एक ऐसे देश (पाकिस्तान) को ये रिएक्टर्स दे रहा है जो इंटरनेशनल एटॉमिक एनर्जी एजेंसी (IAEA) के स्टैंडर्ड्स पर खरा नहीं उतरता।’
गौरतलव है चीन ने एनपीटी का ही हवाला देकर भारत की एनएसजी में एंट्री रोक दी थी। चीन ने कहा था कि बिना एनपीटी पर साइन किए भारत को एनएसजी में शामिल करने से नॉन-प्रोलिफिरेशन की कोशिशों को धक्का लगेगा।

अर्थव्यवस्था

पहली तिमाही में 7.1 रही जीडीपी की विकास दर

वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में आर्थिक विकास दर अनुमान से कम रही। यानि देश की आर्थिक विकास दर में आशा से कम बढ़त देखी गई। अप्रैल-जून की तिमाही में 7.1 फीसदी की बढ़त देखी गई है, जबकि बीते साल यानी साल 2015-2016 की पहली यानी अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी दर 7.5 फीसदी थी।
वर्तमान वित्त वर्ष की पहली तिमाही में खेती की विकास दर 2.6 फीसदी से घटकर 1.8 फीसदी हो गई है। मैन्युफैक्चरिंग की विकास दर 7.3 फीसदी से बढकर 9.1 फीसदी हो गई है।
भारत में अपना घर बना सकेंगे विदेशी निवेशक

सरकार ने अधिक विदेशी निवेश आकर्षित करने के मकसद से एक नई नीति को मंजूरी दे दी है। इस नीति के तहत देश में कम से कम 10 करोड़ रपए तक का निवेश लाने वाले विदेशी निवेशकों को अब निवासी का दर्जा दिया जा सकता है जिससे वे देश में मकान खरीद सकेंगे और उनके लिए वीजा व्यवस्था उदार की जाएगी। उनके परिवार के सदस्यों को नौकरी का अवसर और अन्य सहूलियतें दी जाएंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में एक प्रस्ताव को मंजूरी दी गई जिसके तहत 18 माह के दौरान 10 करोड़ रपए तक और तीन साल में 25 करोड़ रपए तक का विदेशी निवेश लाने वाले विदेशी निवेशक को 10 साल का निवासी परमिट दिया जाएगा। इस निवासी दर्जे को 10 और साल के लिए बढ़ाया जा सकेगा। हालांकि, यह योजना पाकिस्तान और चीन के नागरिकों को उपलब्ध नहीं होगी।
अब एक ही प्लेटफार्म पर जमा होंगे सभी बिल

नेशनल पेमेंट कारपोरेशन आफ इंडिया (एनपीसीआई) ने 26 बिल भुगतान इकाइयों के साथ भारत बिल भुगतान प्रणाली की शुरुआत की है। भारत बिल भुगतान प्रणाली रिजर्व बैंक की पहल पर शुरू की गई है। इसके जरिए ग्राहकों को बिजली, पानी, गैस, टेलीफोन और डायरेक्ट टू होम (डीटीएच) सहित कोई भी बिल चुकाने की सुविधा मिलेगी। भारत बिल पेमेंट प्रणाली की परीक्षण योजना में एपी महेश कोआपरेटिव अर्बन बैंक, एक्सिस बैंक, गोपीनाथ पाटिल पारसिक जनता सहकारी बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और आईडीबीआई बैंक शामिल हैं।
न्यूनतम मजदूरी बढ़कर 350 रुपए हुई

सरकार ने न्यूनतम मजदूरी और बोनस पर सलाहकार बोर्ड की सिफारिशों को स्वीकार कर लिया। गैर-कृषि कर्मचारियों की न्यूनतम एक दिन की मजदूरी को 246 रुपए से बढ़ाकर 350 रुपए करने पर केंद्र सरकार ने मुहर लगा दी।
भारतीय रिज़र्व बैंक की वार्षिक रिपोर्ट

अपने वार्षिक रिपोर्ट में आरबीआई बोर्ड ने कहा है कि जीएसटी विधेयक के संसद के पारित होने के बाद देश में विकास की बेहतरीन संभावनाएं बनी हैं। आरबीआई के मुताबिक अगर महंगाई दर में कमी आई तो ब्याज दरें घट सकती हैं। आरबीआई गवर्नर के मुताबिक मध्य़म अवधि में वित्तीय संस्थाओं में प्रतिस्पर्धा के ज़रिए क्षमता को बढ़ाना होगा। सरकारी बैंकों की स्थिति को और भी बेहतर और सशक्त बनाना होगा। साइबर जोखिम को कम करने के लिए जोखिम के प्रबंधन पर भी आरबीआई का फोकस होने जा रहा है और ग्राहकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए शिकायतों के निवारण के लिए मजबूत व्यवस्था का निर्माण करना भी आरबीआई की प्राथमिकता होगी।
‘फार्मा सही दाम’ मोबाइल एप बताएगा दवाओं की सही कीमत

सरकार ने ‘फार्मा सही दाम’ नाम का एक मोबाइल एप लांच किया है, जो मौजूदा दवाओं को सस्ते दामों में आम आदमी तक पहुचाने का काम करेगा। संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने ‘राष्ट्रीय औषध मूल्य निर्धारण प्राधिकरण’ (NPPA) द्वारा विकसित यह एप एक कार्यक्रम में जनता को समर्पित किया। राष्ट्रीय औषध मूल्य निर्धारण प्राधिकरण यानी ‘नप्पा’ ने लोगों की सहूलियत के लिए दवाओं के दाम तय किए हैं। यह मोबाइल एप दवाओं का वह दाम दर्शाएगा जो कि NPPA ने तय किए हैं।


किफायती ऋण के लिए अवंति फाइनेंस

उद्योगपति रतन टाटा, डा. विजय केलकर और नंदन निलेकणि देश में पिछड़े क्षेत्रों को समय पर किफायती ऋण उपलब्ध कराने के लिए तकनीक आधारित वित्तीय समावेशी कंपनी ‘‘अवंति फाइनेंस’ शुरू करने की घोषणा की है। टाटा समूह की जनकल्याणकारी संस्था टाटा ट्रस्ट ने जारी बयान में बताया कि अवंति फाइनेंस का प्राथमिक उद्देश्य कम दर पर ऋण उपलब्ध कराना तथा पिछड़े क्षेत्रों को समृद्ध करना है। रतन टाटा और निलेकणि द्वारा कल्याणकारी कार्यों के लिए रखी गई पूंजी में से अवंति फाइनेंस में निवेश किया जाएगा। इससे प्राप्त लाभ को पुन: इसी में लगाया जाएगा। इस वित्त वर्ष के अंत तक अवंति का परिचालन शुरू हो जाएगा। अवंति के संस्थापक निदेशकों में श्री टाटा, श्री केलकर और श्री निलेकणि के अलावा आर. वेंकटरमण भी शामिल होंगे।






21 बैंकों ने लॉन्च किया UPI एप

नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने यूपीआई एप की शुरुआत की है जिसे देश के 21 बैंकों ने लाइव कर दिया है। इस एप के जरिए किसी को भी पैसे भेजा सकता है। इस एप के द्वारा UPI ID (र्इमेल आईडी, मोबाइल नंबर या आधार) स्‍मार्टफोन के जरिए पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है। इस एप को गूगल प्‍लेस्‍टोर से डाउनलोड कर स्‍मार्टफोन में इंस्टाल करना होता है। इसके बाद अपने बैंक अकाउंट और आधार नंबर से इसको जोड़ना होता है, जिसके बाद आप इसका प्रयोग कर सकते हैं। इस एप के जरिए 1 दिन में 50 रुपए से लेकर 1 लाख रुपए तक ट्रांसफर किए जा सकते हैं।
एसबीआई और आईसीआईसीआई अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण बैंक

रिजर्व बैंक ने देश के सबसे बड़े वाणिज्यिक बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और सबसे बड़े निजी बैंक आईसीआईसीआई बैंक को अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण बैंक (डी-एसआईबी) की सूची में शामिल किया है। आरबीआई की जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि इन दोनों बैंकों को वर्ष 2016 में भी अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण बैंक के रूप में पहचान की गई है। ये दोनों बैंक वर्ष 2015 में भी इस सूची में शामिल किए गए थे। रिजर्व बैंक प्रत्येक वर्ष अगस्त में डी-एसआईबी के नाम जारी करता है।

Previous

Next


Comments


LEAVE A COMMENT

Note: write a valuable comment!
* Required Field